बालों की देखभाल: बालों की देखभाल के लिए तिल के तेल के 5 अद्भुत फायदे

बालों की देखभाल: बालों की देखभाल के लिए तिल के तेल के 5 अद्भुत फायदे

तिल का तेल बालों से जुड़ी इन 5 समस्याओं को दूर करता है आपको इसके फायदे भी पता होने चाहिए। हर मौसम में बालों की उचित देखभाल करना आवश्यक है, चाहे गर्मी हो या सर्दी, अन्यथा, बालों में विभिन्न समस्याएं हैं। बालों की उचित देखभाल के लिए, आपको बाजार से महंगे उत्पाद खरीदने और उपयोग करने की आवश्यकता नहीं है, बल्कि आप कुछ आसान घरेलू वस्तुओं का उपयोग करके बालों को प्राकृतिक देखभाल दे सकते हैं। इन घरेलू चीजों में तिल का तेल भी शामिल है, जो बालों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। तिल के तेल का इस्तेमाल बालों पर कई तरह से किया जा सकता है और यह बालों से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करता है। सबसे अच्छी बात यह है कि आपको यह तेल बाजार में सस्ती कीमत पर मिलेगा। बालों के लिए तिल के तेल के फायदे 1. बालों को बढ़ने में मदद करता है। 2. बालों को सफेद होने से रोकता है। 3. बालों को चमकदार और मुलायम बनाता है। 4. बालों से डैंड्रफ को खत्म करता है। 5. खोपड़ी को स्वस्थ रखने में मदद करता है। 1. बालों के विकास के लिए फायदेमंद, फैशन छोटे बालों का है, लेकिन आज भी महिलाओं में लंबे बालों का क्रेज देखा जाता है। बालों की ग्रोथ बढ़ाने के लिए महिलाएं न जाने क्या-क्या करती हैं, लेकिन कभी-कभी बालों को उगाने का सारा समय बेकार हो जाता है। ऐसे में अगर आप अपने बालों में तिल का तेल लगाती हैं, तो आपके बालों की ग्रोथ अच्छी हो सकती है। तिल के तेल में ओमेगा -3 और ओमेगा -6 होता है। ये फैटी एसिड बालों को लंबा करने में मदद करते हैं। तिल का तेल बालों के रोम में वजन करता है और खोपड़ी पर रक्त परिसंचरण में सुधार करता है और बालों के विकास पर अच्छा प्रभाव डालता है। 2. डैंड्रफ की समस्या को कम करता है मौसम चाहे जैसा भी हो, डैंड्रफ कभी भी हो सकता है। डैंड्रफ के कई कारण हो सकते हैं, लेकिन इससे छुटकारा पाने के लिए कई घरेलू टिप्स हैं। उनमें से एक तिल का तेल है, जो जीवाणुरोधी गुणों से भरपूर है; डैंड्रफ की समस्या को दूर करने के लिए तिल का तेल बहुत अच्छा विकल्प है। आप तिल के तेल को गर्म करके बालों की मालिश करें और इसे रात भर के लिए बालों में छोड़ दें। ऐसा करने से डैंड्रफ की समस्या से काफी राहत मिलेगी। आप चाहें तो तिल के तेल को नारियल के तेल या बादाम के तेल के साथ भी मिला सकते हैं। 3. खोपड़ी की सेहत के लिए फायदेमंद चेहरे की त्वचा की देखभाल करना जितना जरूरी है, उतना ही जरूरी है खोपड़ी की सेहत का ख्याल रखना। स्कैल्प की त्वचा को भी हाइड्रेट रखना बहुत ज़रूरी है क्योंकि स्कैल्प पर ड्राईनेस की भी समस्या होती है। इससे बाल रूखे, सूखे और बेजान होने के साथ-साथ झड़ने लगते हैं। यदि आप सप्ताह में एक या दो बार खोपड़ी की मालिश करते हैं, तो यह सूखापन समाप्त हो सकता है। अगर आप अपने स्कैल्प को अतिरिक्त निखार देना चाहते हैं, तो आप तिल के तेल के साथ एलोवेरा और नींबू के रस को भी मिला सकते हैं। इस मिश्रण को रात भर बालों में रहने दें और सुबह उठकर बालों को शैम्पू से धो लें। 4. बालों को सफेद होने से रोकता है गलत खान-पान और खराब जीवनशैली के कारण कई बार बच्चे समय से पहले ही सफेद होने लगते हैं। अगर कम उम्र में बाल सफेद होने लगते हैं, तो यह चेहरे की सुंदरता को भी प्रभावित करता है। वैसे तो बाजार में आपको बालों को रंगने के लिए कई उत्पाद मिल जाएंगे, लेकिन अगर आप हफ्ते में 2 से 3 बार तिल के तेल से बालों की मालिश करते हैं, तो आपको इससे काफी फायदा मिलेगा। आपको बता दें कि तिल के तेल में समृद्ध एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो समय से पहले सफेद बालों की समस्या को रोकते हैं। 5. बालों को ब्रश करता है तिल का तेल भी बालों को चमकदार बनाने में बहुत फायदेमंद है। आप इसे बालों में लीव-इन-कंडीशनर के रूप में उपयोग कर सकते हैं। इसलिए बालों को धोने के बाद आप तिल के तेल की 5-10 बूंदों को ग्लिसरीन में मिलाकर बालों की लंबाई पर लगा सकते हैं। इससे आपके बालों में चमक आएगी। इमेज क्रेडिट: फ्रीपिक

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.