दुनिया का एक देश, जहां अकाल पड़ने पर लोग इंसानों का मांस खाने लगे

दुनिया का एक देश, जहां अकाल पड़ने पर लोग इंसानों का मांस खाने लगे

यूक्रेन एक बहुत ही सुंदर और प्राचीन देश है, जो पूर्वी यूरोप में स्थित है। यह पूर्व में रूस, पूर्व में बेलारूस, पोलैंड और उत्तर में स्लोवाकिया, पश्चिम में हंगरी, दक्षिण-पश्चिम में रोमानिया और मोल्दोवा और दक्षिण में काला सागर और आज़ोव सागर जैसे कई देशों की सीमाओं पर है। हालाँकि कीव इस देश की राजधानी है और यहाँ का सबसे बड़ा शहर भी, लेकिन यहाँ सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कीव को ‘सुंदर शहर’ भी कहा जाता है। यूक्रेन के बारे में कई अन्य रोचक बातें हैं, जिनके बारे में जानकर आपको आश्चर्य नहीं होगा। हालांकि, दुनिया भर के कई देशों में शराब को गलत माना जाता है, लेकिन शराब पीना यहां के लोगों के लिए किसी परंपरा से कम नहीं है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया भर में शराब की खपत के मामले में यूक्रेन का स्थान छठा है। अगर हम आंकड़ों पर नजर डालें तो यहां शराब की खपत प्रति व्यक्ति प्रति वर्ष लगभग 14 लीटर है। आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया का सबसे गहरा रेलवे स्टेशन यूक्रेन में स्थित है, जिसे ‘आर्सेनलना मेट्रो स्टेशन’ के नाम से जाना जाता है। यह स्टेशन जमीन से 105.5 मीटर या 346 फीट की गहराई पर स्थित है। यूक्रेन के लोग संगीत के भी बहुत शौकीन हैं। यही कारण है कि दुनिया के सबसे लंबे संगीत वाद्ययंत्र इस देश में बने हैं। यह लकड़ी के बने एक सींग के आकार का होता है, जिसे ‘ट्रेमबिटा’ कहा जाता है। ज्यादातर देशों में, जोड़े शादी के समय बाएं हाथ में शादी की अंगूठी पहनते हैं, जबकि यूक्रेन में ऐसा नहीं है। इसके विपरीत, लोग दाहिने हाथ में शादी की अंगूठी पहनते हैं। यह यहां की परंपरा में शामिल है। 1932–33 में यूक्रेन (तब यूक्रेन सोवियत संघ का हिस्सा था) में भीषण अकाल पड़ा था, जिसमें लाखों लोग मारे गए थे। कहा जाता है कि अकाल के दौरान इतनी भूख थी कि इंसान इंसानी मांस खा रहे थे। तब लगभग 2500 लोगों को नरभक्षण के लिए गिरफ्तार किया गया था।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.