मौसम का पूर्वानुमान: देश के इन राज्यों में बारिश की संभावना, बर्फबारी और शीत लहर से ठंड बढ़ेगी, अलर्ट जारी

मौसम का पूर्वानुमान: देश के इन राज्यों में बारिश की संभावना, बर्फबारी और शीत लहर से ठंड बढ़ेगी, अलर्ट जारी

देश के उत्तरी हिस्से में तेज ठंड जारी है। मौसम ने एक बार फिर करवट ली है। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पंजाब हरियाणा में ठंड फिर से बढ़ गई है। मौसम विभाग के अनुसार, शुक्रवार से एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो गया है। इस वजह से पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी होगी। उत्तर और उत्तर-पश्चिमी राज्यों में बारिश हो सकती है। अगले दो-तीन दिनों तक तापमान में गिरावट आएगी और शीतलहरें चलेंगी, जिससे सर्दी का कहर बढ़ेगा। शनिवार सुबह से ही उत्तर भारत के अधिकांश हिस्सों में कोहरा छाया हुआ था। उत्तर प्रदेश में ठंड बढ़ने की संभावना है। मौसम विभाग ने कहा कि एक-दो दिन बाद तापमान में कुछ बढ़ोतरी होगी, लेकिन उसके बाद इसमें गिरावट आएगी। पहाड़ों से आ रही ठंडी हवा के कारण तापमान में कमी आएगी क्योंकि गलन बढ़ेगी और सर्दी का अहसास होगा। इस तरह की ठंड अगले पूरे सप्ताह तक रहने की संभावना है। बिहार में अभी भी जारी रहेगा और पटना सहित बिहार के अधिकांश हिस्सों में धुंध छाई हुई है। हालांकि, बाद में मौसम साफ रहने की संभावना है। पश्चिम से आ रही हवाओं के कारण, एक या दो दिन तक सर्दी जारी रहेगी। उत्तराखंड में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से उत्तराखंड में बर्फबारी और बर्फबारी की चेतावनी जारी है, गढ़वाल और कुमाऊं क्षेत्र के कई जिलों में भारी बारिश और बर्फबारी की संभावना है। 23 और 24 को ज्यादातर जगहों पर बारिश और बर्फबारी हो सकती है। मौसम विभाग ने 22 सौ मीटर और उससे अधिक ऊंचाई वाले स्थानों पर बर्फबारी की संभावना जताई है। मौसम केंद्र देहरादून के अनुसार, मौसम में बदलाव होगा और गढ़वाल क्षेत्र के देहरादून, हरिद्वार सहित पिथौरागढ़, बागेश्वर, और अल्मोड़ा जिलों के कुछ स्थानों पर बर्फबारी हो सकती है। मैदानी इलाकों में घना कोहरा रहेगा। देहरादून, हरिद्वार जिलों में कहीं-कहीं 23 पर ओलावृष्टि और बिजली गिरने की संभावना है। मैदानी इलाकों में घने कोहरे के प्रति सावधानी बरतने की सलाह दी गई है। हिमाचल के कई जिलों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। शुक्रवार से हिमाचल प्रदेश में मौसम खराब हो गया है। राज्य के मैदानी और मध्य पर्वतीय जिलों में 23 और 24 जनवरी को बारिश और बर्फबारी का अनुमान है। 23 जनवरी को मैदानी जिलों ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा और मध्य पर्वतीय क्षेत्रों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू, और चंबा के कई क्षेत्रों में गरज और बिजली के साथ एक पीला अलर्ट जारी किया गया था। 25 जनवरी से पूरे राज्य में मौसम साफ रहने की संभावना है। हरियाणा में बारिश की संभावना हरियाणा में मौसम की स्थिति बदलने की संभावना है। राज्य के कई जिलों में 23 जनवरी की शाम या रात से बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार, हरियाणा में पंचकूला, अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल तक पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण रिमझिम या हल्की बारिश हो सकती है। 24 जनवरी को तापमान में 2 से 4 डिग्री की कमी आने की भी संभावना है। 25 और 26 जनवरी को कोहरा पड़ सकता है। वहीं, गुरुवार सुबह राज्य के कुछ इलाकों में गहरी धुंध थी। झारखंड में ठंड बढ़ेगी। फिर से झारखंड की राजधानी रांची सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों में ठंड बढ़ेगी। अगले 24 घंटों के दौरान न्यूनतम तापमान में 6 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आने की संभावना है। ठंड का असर 23 जनवरी तक देखा जाएगा, जिसके बाद पश्चिमी विक्षोभ के कारण तापमान एक बार फिर बढ़ जाएगा, जिसके कारण तापमान 24 जनवरी से बढ़ जाएगा। झारखंड के दक्षिणी जिलों में सुबह धुंध भी देखी जा सकती है। ठंड से राहत नहीं मिलेगी।दिल्ली में न्यूनतम तापमान 4.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री कम है। कोहरे के कारण राजधानी में यातायात भी प्रभावित हुआ। मौसम विभाग के अनुसार, सोमवार से न्यूनतम तापमान फिर से चार डिग्री तक गिर सकता है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड की ऊंची पहुंच में बर्फबारी की उम्मीद है। बर्फ से ढके पहाड़ों से आने वाली ठंडी, शुष्क हवाएँ सोमवार तक तापमान में चार डिग्री सेल्सियस तक की कमी ला सकती हैं।

Source link